Why National Girl Child Day is celebrated on 24 January?

National Girl Child Day की स्थापना वर्ष 2008 के अंदर महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा की गई थी

भारतीय देश में बालिकाओं के सामने आने वाली सभी प्रकार की असमानताओं के संबंध में जागरूकता

का विस्तार करने के लिए हर साल 24 जनवरी को हम सभी राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाते है

राष्ट्रीय बालिका दिवस न केवल शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और पोषण में समान अवसरों की वकालत करता है, बल्कि बालिकाओं के सभी

अधिकारों के संबंध में जागरूकता फैलता है और बाल विवाह, भेदभाव और लड़कियों के खिलाफ हिंसा जैसे मुद्दों को भी संबोधित करता है

22 जनवरी 2015 के दिन प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना की

सालगिरह को चिह्नित करने के लिए हर वर्ष 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है

तीन मंत्रालयों- महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और शिक्षा मंत्रालय की ओर से

संयुक्त रूप से संचालित इस पहल का मुख्य मकसद गिरते बाल लिंग अनुपात के मुद्दे को भी संबोधित करने से है